Hindi

BRAIN TO MIND IS HERE TO BECOME BRIDGE BETWEEN YOUNG AGE ENERGY AND MID AGE EXPERIENCES.

ब्रोनी वेयर

*जैसा कि हम सब इस universal truth से वाकिफ़ हैं कि मरता हुआ व्यक्ति हमेशा सच बोलता है, उसकी कही एक-एक बात epiphany अर्थात 'ईश्वर की वाणी' जैसी होती है। मरते हुए मरीजों के इपिफ़नीज़ को  ब्रोनी वेयर ने 2009 में एक ब्लॉग के रूप में रिकॉर्ड किया। बाद में उन्होनें अपने निष्कर्षों को एक किताब* *“THE TOP FIVE REGRETS of the DYING" के रूम में publish किया। छपते ही यह विश्व की Best Selling Book साबित हुई और अब तक  लगभग 29 भाषाओं में छप चुकी है। पूरी दुनिया में इसे 10 लाख से भी ज़्यादा लोगों ने पढ़ा और प्रेरित हुए।

अनिवार्य बिजनेस टीप्स

अनिवार्य बिजनेस टीप्स    कोई भी बिजनेस करनेके लिए अनिवार्य बिजनेस टीप्स   बिजनेसमेन बननेके लिए बिजनेसमेनकी मानसिकता अनिवार्य है।आप बिजनेसमेन की मानसिकता लेकर  जोब अच्छी तरह कभीभी नहीं कर शकते, वैसे ही जोब ओरिएन्टेड मानसिकता लेकर  कभीभी बिजनेसमें सफल नहीं हो शकते।   पहले देख लेते है जापानी मूल के अमेरिकी लेखक रोबर्ट कियोसाकि […]

नियत से ही बरकत (फायदा)

नियत से ही बरकत (फायदा) 1937 में दो भाइयों ने एक कंपनी बनाई  … ये कम्पनी दवा का व्यवसाय करती थी .. भारत में फार्मा क्रान्ति शुरू हुई तो उस समय कंपनी परिवार के एक युवा और अति उत्साही सदस्य के हाथ में थी जो कि स्वयं भी एक वैज्ञानिक था  … इस वैज्ञानिक व्यवसाई […]

Ghanshyamdas Birla | घनश्यामदास बिड़ला

 घनश्यामदास बिड़ला माना था जब किसी की रईसियत पर तंज़ कसना होता था तो कहते, ‘तू कौन सा टाटा-बिड़ला है?’ आज हम उसी बिड़ला की बात कर रहे हैं जिसे दुनिया घनश्यामदास बिड़ला (जीडी बाबू) के नाम से जानती है. बिड़ला मारवाड़ी समाज के बनिए होते हैं. गुरचरण दास ने अपनी क़िताब ‘उन्मुक्त भारत’ में लिखा […]

धीरूभाई की रणनीति

18 मार्च 1982 को मुंबई स्टॉक एक्सचेंज में हाहाकार मच गया था. मामला यहां से शुरू हुआ कि कलकत्ता में बैठे हुए वायदा व्यापार के कुछ मारवाड़ी शेयर दलालों ने रिलायंस टेक्सटाइल इंडस्ट्रीज के साढ़े तीन लाख शेयर धड़ाधड़ बेचने शुरु कर दिए.

OYO ROOMS, RITESH AGRAWAL

OYO ROOMS, RITESH AGRAWAL उड़ीसा राज्य के रायगड़ जिले के एक छोटे से गाँव (वहाँ के 75% परिवार ग़रीबी रेखा के नीचे है) के मध्यमवर्गीय परिवार का एक लड़का गाँव की स्कूलमें जाता है, वहाँ का शिक्षक सब छात्रों को बारी बारी पूछता है की आप बड़े होकर क्या बनना चाहते हो? तकरीबन हर छात्र […]

Start Your Free Consultation

BRAIN TO MIND IS HERE TO BECOME BRIDGE BETWEEN YOUNG AGE ENERGY AND MID AGE EXPERIENCES.